storm naming

Storm naming अम्फान तुफान का नामकरण

 तुफान

1- अम्फान तुफान साल 2004 तैयार की गई लिस्ट का आखिरी नाम है इस तुफान के नाम का प्रस्ताव थाइलैण्ड ने दिया था

2- दुनिया भार जो नाम तुफान के रखे जाते है वो पांच कमेटिया करती है

(a) इस्‍केप टाइफून कमेटी

(b) इस्‍केप पैनल ऑफ ट्रॉपिकल साइक्‍लोन

(c) आरए 1 ट्रॉपिकल साइक्‍लोन कमेटी

(d) आरए- 4 (5) आरए-

(e) ट्रॉपिकल साइक्‍लोन कमेटी.

3-सबसे पहले विश्व मौसम विज्ञान ने इन चक्रवातो का नाम रखने की शुरूआत की।

4-भारत द्वारा इसकी शुरुआत 2004 से हुआ

5- भारत के अलावा पाकिस्तान, बंग्लादेश श्रीलंका , मालदीव म्यामांर, ओमान, थाइलैण्ड आदि देशो ने एक फार्मूला तैयार किया। इन आठो देशो द्वारा सुझाये गये नामो के पहले अक्षऱ के अनुसार उनका क्रम तैयार किया जाता है

और फिर उनका नाम रखा जाता है

6- ये सभी आठ देश वर्ड मेट्रोलॉजिकल ऑर्गनाइजेशन को तुफान के नाम की लिस्ट देते है।यह संस्था दिये गये नामो के आधार पर इन चक्रवात अथवा तुफान का नाम रखती है

7-इस बार थाइलैण्ड द्वारा भेजे गए नाम को चुनना था इसलिए इसका नाम अम्फान पड़ा

8- यदि ये तुफान अधिका तबाही मचाते है तो इनका नाम बदला जा सकता है

9- भारत में 10 साल तक एक ही नाम का प्रयोग नही किया जाता है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!